Daily Archive: Saturday, June 2, 2018

जब लोगों ने घेरा बिजली विभाग..कहा…क्या चक्काजाम के बाद ठीक होगी बिजली..फिर आश्वासन के बाद लौटे घर

लोरमी(योगेश मौर्य)।नगर पंचायत लोरमी के लोग इन दिनों बिजली कटौती और लो वोल्टेज की समस्या को लेकर काफी परेशान हैं। बिजली आंख मिचौली से जूझ रही जनता में प्रशासन और खासकर बिजली विभाग के खिलाफ जमकर आक्रोश है। लोगों को पानी के लिए दिनों दिन का इंतजार करना पड़ रहा है। बिजली व्यवस्था के खिलाफ

अध्यापकों ने फिर किया जंग का एलान..नरवरिया ने बताया..शिक्षकों पर भारी पड़ गयी नेताओं की दोस्ती

बिलासपुर/भोपाल– मध्यप्रदेश के शिक्षाकर्मियों ने एक बार फिर हड़ताल का एलान किया है। पहले की तुलना में इस बार शिक्षाकर्मियों में कुछ ज्यादा ही आक्रोश है। शिक्षाकर्मियों का मानना है कि पौने तीन लाख अध्यापकों के साथ सरकार ने धोखाधड़ी की है। 29 मई को कैबीनेट में लाया गया संविलियन प्रस्ताव आधा अधूरा है। क्योंकि

ऑक्सीजोन का रायपुर मॉडल पूरे देश के लिए अनुकरणीय-केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन

रायपुर।केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 19 एकड़ के रकबे में विकसित किए जा रहे ऑक्सीजोन के मॉडल की तारीफ की है और कहा है कि रायपुर का यह ऑक्सीजोन शहरी पर्यावरण के संरक्षण की दृष्टि से पूरे देश के लिए एक अनुकरणीय मॉडल होगा। डॉ. हर्षवर्धन ने आज नई

स्वच्छ भारत मिशन के तहत समर इंटर्नशिप कर रहे युवाओं को मुख्यमंत्री ने दिलाई स्वच्छता की शपथ

रायपुर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज लाइवलीहुड कॉलेज भवन के शुभारंभ के बाद स्वच्छाग्राही युवाओं के स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप कार्यक्रम में शामिल होकर उन्हें स्वच्छता की शपथ दिलाई। उन्होंने शपथ दिलाते हुए कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गंाधी ने स्वच्छ भारत का जो सपना देखा था उसे पूरा करने का संकल्प और जिम्मेदारी हम लेते

स्वास्थ्य मंत्री अजय चन्द्राकर ने छत्तीसगढ़ी भाषा में ‘परिवार स्वास्थ्य वाणी 104’ टोल फ्री नम्बर का किया शुभारम्भ

रायपुर।स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ने आज यहां अपने निवास कार्यायल में छत्तीसगढ़ी भाषा में ‘परिवार स्वास्थ्य वाणी 104’ टोल फ्री नम्बर का शुभारंभ किया। प्रदेश के कोई भी व्यक्ति टोल फ्री नम्बर 104 डायल कर स्थानीय भाषा में भी निःशुल्क परिवार नियोजन संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने

नए संगठन ने किया आरक्षण का समर्थन..परमार ने कहा..छत्तीसगढ़ में भूख से मर रहे लोग..नहीं बताया स्थान का नाम

बिलासपुर— भाजपा , बसपा से डूबकी मारने के बाद गोविन्द सिंह परमार ने आरक्षण के समर्थन में नया संगठन खड़ा किया है। यद्यपि परमार ने अब किसी पार्टी से रिश्ता होना नहीं बताया है। लेकिन उनका संगठन कभी राजनीतिक दल का रूप में आ जाए..इस बात से स्पष्ट इंकार नहीं किया है। पत्रकारों को परमार

जांच के बाद PWD वरिष्ठ लिपिक संस्पेंड…गुप्ता पर टीडीआर और करोंड़ों की फाइल से छेड़छाड़ का आरोप..सीई की कार्रवाई

बिलासपुर। बिलासपुर संभाग क्रमांक वरिष्ठ लिपिक सुरेश कुमार गुप्ता को निलंबित कर दिया गया है। गुप्ता पर टीडीआर और बैंक गारंटी के कागजात पर हेराफेरी करने का आरोप लगा है। संस्पेशन के पहले गुप्ता के खिलाफ जांच बैठायी गयी थी। जांच पड़ताल के दौरान जांच टीम ने आरोपों को सही पाया। इस दौरान गुप्ता से पूछताछ

हड़ताली नर्सों को चार जून तक मोहलत,ड्यूटी पर लौटें अन्यथा सेवा से किया जाएगा बर्खास्त

रायपुर।राज्य सरकार ने हड़ताली नर्सों को काम पर लौटने के लिए इस महीने की चार तारीख तक मोहलत दी है। सरकार ने निर्णय लिया है कि उन्हें सेवा से बर्खास्त करने के लिए विधिवत नोटिस दी जाएगी। अगर वे चार जून तक अस्पतालों में ड्यूटी पर नहीं लौटेंगी, तो उनकी सेवाएं जनहित में समाप्त कर

आम लोगों को सस्ती दवाएं उपलब्ध कराने और निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन रविवार को

रायपुर।आम लोगों को सस्ती दवाएं उपलब्ध कराने और लोगों के स्वास्थ्य की जांच हेतु निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कल 3 जून को महावीर नगर गुरुव्दारा परिसर मे किया जा रहा है. समाज सेवा के उद्देश्य से नवगठित छत्तीसगढ़ सिक्ख ऑफिसर्स वेलफेयर एसोसियेशन की पहल पर रायपुर के प्रतिष्ठित रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल व महावीर गुरुव्दारा

गरियाबंद में पुलिस भर्ती अब आठ-नौ जून को होगी

रायपुर। राज्य के जिला मुख्यालय गरियाबंद में छत्तीसगढ़ पुलिस बल के आरक्षक संवर्ग के लिए इस महीने की पांच और छह तारीख को होने वाला भर्ती कार्यक्रम अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दिया गया है। पुलिस मुख्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब यह भर्ती आठ और नौ जून को होगी। भर्ती केन्द्र में जिन अभ्यर्थियों

शिक्षाकर्मीः संविलियन के बाद अब नया तूफान…अध्यापकों ने दी धमकी..कहा सरकार को भारी पड़ेगी वादाखिलाफी.

बिलासपुर–मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश ने 21 जनवरी को आवास पर अध्यापकों का शिक्षा विभाग में संविलियन की घोषणा की थी। 14 मई को स्पष्ट किया गया था कि शिक्षा विभाग में एक ही कैडर होगा और वह शिक्षक संवर्ग कहलाएगा। 29 मई को मध्यप्रदेश मंत्रिमंडल में लिए गए संक्षेपिका से स्पष्ट हो गया है कि अध्यापक संवर्ग