Daily Archive: Wednesday, March 7, 2018

सीट बेल्ट नहीं बांधने वालों पर लटकी तलवार..3 दिन बाद पुलिस का विशेष अभियान..फिलहाल समझाने का प्रयास

बिलासपुर— अब बिना बेल्ट और हेलमेट की सवारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। आईजी और पुलिस कप्तान के विशेष निर्देश पर निर्देशों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ चालानी कार्रवाई होगी। फिलहाल पुलिस प्रशासन ने तीन दिनों तक सभी कार चालकों और दो पहिया की सवारी करने वालों को समझाइश देगी।

हर्षिता दिखाएंगी सद्भावना दौड़ को हरी झण्डी…पुलिस की महिला अधिकारी भी होंगी शामिल..घरेलू काम काजी महिलाओ में विशेष उत्साह

बिलासपुर—विश्व महिला दिवस पर जज्बा स्पोर्टस के बैनर तले सद्भावना दौड़ का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम की सबसे बड़ी खासियत घर के काम काज से फुरसत नहींं पानी वाली महिलाएं भी दौड़ में शामिल होंगी।  संंस्था प्रमुख दीपक अग्रवाल ने बताया कि आयोजन मे शामिल होने के लिए ना तो उम्र का बधन है

असहिष्णु होते भारत पर ट्रेड यूनियन की चिंता….अध्यक्ष पीआर ने कहा…भगत सिंह के आदर्शों में शामिल हैं लेनिन

बिलासपुर—ट्रेड यूनियन कौंसिल बिलासपुर के नेताओं ने एक बैठक के दौरान देश में बढ़ रही असहिष्णुता पर गंभीर चिंंता जाहिर की है। बैठक का आयोजन कर्मचारी भवन डबरीपारा में किया गया। इस दौरान कर्मचारियों ने निजी समस्याओं को सामने रखा। मूर्ति तोड़ने जैसी गतिविधियों की आलोचना भी की।                            बिलासपुर ट्रेड यूनियन कौंसिल अध्यक्ष पी.आर.यादव

आईजी ने कहा..जवान हर पल रहे तैनात..हिस्ट्रीशीटरों पर रहेगी नजर…मॉकड्रिल को क्यों बताया जरूरी

बिलासपुर—आईजी दुर्ग ने रेलवे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अधिकारियों की बैठक ली है। रेंज महानिरीक्षक जी.पी सिंह ने रेलवे स्टेशनों में आपातकालीन स्थिति, कानून-व्यवस्था, नक्सली घटना और रेलवे सम्पत्ति सुरक्षा को लेकर पुलिस अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिया। आपातकालीन परिस्थितियों से निपटने के लिए जवानों को हर पल तैयार रहने को कहा।                           मुख्यालय,

कर्मचारियों के लिए खुशखबरी,मंत्रिमंडल ने महंगाई भत्ता बढ़ाया

नईदिल्ली।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों को महंगाई भत्‍ते की अतिरिक्‍त किस्‍त और पेंशनधारियों को महंगाई राहत जारी करने की मंजूरी दी। यह 1 जनवरी, 2018 से प्रभावी होगी। महंगाई के मद्देनजर इसके तहत मूल वेतन/पेंशन की मौजूदा दर 5 प्रतिशत के हवाले से 2 प्रतिशत की बढ़ोतरी

दिग्गज कांंग्रेसी करेंगे दिग्गी का स्वागत…चरणदास महंत होंगे यात्रा में शामिल..भूपेश और टीएस भी होंंगे मौजूद

बिलासपुर–दिग्विजय सिंह की नर्मदा परिक्रमा यात्रा का छत्तीसगढ़ में प्रवेश करते ही स्वागत किया जाएगा। यात्रा में पीसीसी चीप भूपेष बघेल, विधानभा नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव समेत बिलासपुर से सैक़ड़ों कांंग्रेस नेता यात्रा में शिरकत नर्मदा परिक्रमा में शामिल होंगे। यह जानकारी कांग्रेस के संभागीय प्रवक्ता अभयनारायण राय ने दी है। अभय ने बताया कि दिग्विजय

धरमजीत ने कहा आरोपी विधायक को मजा..थानेदार को सजा…सरकार के दहशत में पुलिस प्रशासन..उग्र आंंदोलन की दी धमकी

 बिलासपुर—- पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धर्मजीत सिंह की अगुवाई में जनता कांग्रेस नेताओंं ने जिला प्रशासन का घेराव किया। इसके पहले जनता कांग्रेस नेताओं ने नेहरू चौक पर तखतपुर विधायक की गिरफ्तारी की मांंग को लेकर धरना प्रदर्शन किया। धरमजीत ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि पुलिस सत्ता पक्ष के दबाव में है। जब

जब कांग्रेसियो ने कहा तखतपुर विधायक को करें गिरफ्तार…नवनियुक्त अध्यक्ष, प्रदेश महामंत्री ने बताया…दहशत में क्षेत्रवासी

बिलासपुर—नव नियुक्त जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी की अगुवाई में कांग्रेसियों ने अच्छी खासी संख्या में कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन का घेराव किया। इस दौरान जोश खरोश से लवरेज कांग्रेसियों ने जनकर भाजपा सरकार जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। विजय केशरवानी समेत सभी कांग्रेसियों ने आरोप लगाया कि कानून व्यवस्था पूरी तरह

तखतपुर में कांग्रेस का हल्ला बोल-सभी ने कहा MLA राजू को क्यों छोड़ रही है पुलिस,मक्कड़ ने की ईनाम की घोषणा

बिलासपुर।युवक कांग्रेस कमेटी की ओर से बुधवार को  तखतपुर विधायक राजू सिंह क्षत्री एवं उसके बेटे विक्रम सिंह,और उनके कार्यकर्ता द्वारा थाने मे की गयी गुण्डागर्दी और पुलिसिया कार्यवाही के विरोध मे पुराना नगरपालिका परिसर मे एकदिवसीय धरना दिया गया और राष्ट्रपति राज्यपाल के नाम से तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया । इस मौके पर

प्रदेश के दस हजार से अधिक गांव बने राजस्व विवाद मुक्त गांव

रायपुर।राजस्व संबंधी विषयों पर कई तरह के विवाद राजस्व न्यायालयों एवं व्यवहार न्यायालयों में लंबित रहते हैं। विवाद होने के कई कारणों में से एक महत्वपूर्ण कारण राजस्व अभिलेखों का अद्यतन नहीं होना है। इससे नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन आदि के मामले लंबित होते जाते हैं। राजस्व संबंधी इन्हीं कठिनाईयों के निराकरण के उद्देश्य से राज्य