हरिप्रसाद ने कहा..शिक्षाविद् ने जताई कांग्रेस में आस्था…डी.पी.की घर वापसी.

IMG-20170704-WA0010रायपुर—राजधानी में प्रदेश प्रभारी व्ही.के.हरिप्रसाद की मौजूदगी में जोगी कांग्रेस के संस्थापक सदस्य पूर्व मंत्री डी.पी.धृतलहरे नें घर वापसी की है। डी.पी.धृतलहरे ने जोगी कांग्रेस में जाना सबसे बड़ी राजनीतिक भूल बताया है। कुलसचिव से नेता बने शैलेन्द्र पाण्डेय के कंधे पर तीन रंग वाला पटका डालकर व्ही.के.हरिप्रसाद ने कांग्रेस में पूरी तरह से शामिल कर लिया है। पत्रकारों को कांग्रेस प्रदेश प्रभारी ने बताया कि डी.पी.धृतलहरे पार्टी के पुराने और जनाधार वाले नेता हैं। उन्होनें घर वापसी की है। होता है..कि कभी कभी बड़े बड़े नेता भी गलत निर्णय ले लेते हैं। लेकिन बड़ा नेता वही है..जो गलतियों को समझते ही सुधार कर ले। डी.पी.धृतलहरे ने भी ऐसा ही कुछ कहा। उन्होने कहा कि शैलेन्द्र पाण्डेय शिक्षाविद हैं…पार्टी को उनकी योग्यता का फायदा मिलेगा।

                     रायपुर में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल समेत दिग्गज नेताओं के सामने प्रदेश प्रभारी व्ही.के.हरिप्रसाद ने कुलसचिव शैलेन्द्र पाण्डेय और पूर्व मंत्री डी.पी.धृतलहरे को पार्टी में प्रवेश कराया। मालूम हो कि करीब एक महीने से पूर्व मंत्री धृतलहरे की तरफ जोगी कांग्रेस छोड़ने की बात सामने आ रही थी। कुछ दिनों पहले उन्होने स्पष्ट संदेश भी दे दिया था कि अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस पार्टी में शामिल हो सकते हैं। मालूम हो कि डी.पी.धृतलहरे मारो विधानसभा से लगातार चुनाव लड़कर सदन पहुंचे हैं। वर्तमान में मारो विधानसभा नवागढ़ विधानसभा के नाम से जाना जाता है।

                                       पार्टी प्रवेश के बाद धृतलहरे ने बताया कि मेैने घर वापसी की है। जोगी और उनकी पार्टी आम जनता को गुमराह करने का काम कर रही है। प्रदेश का विकास कांग्रेस के मजबूत हाथों में ही संभव है। उन्होने जोगी पार्टी और भाजपा पर जनता को मूर्ख बनाने का आरोप लगाया। प्रवेश प्रक्रिया के दौरान व्ही.के.हरिप्रसाद ने कहा कि दरअसल जोगी और सीएम जनता को मूर्ख बनाने लुका छिपी का खेल खेल रहे हैं। उन्होने कहा कि धृतलहरे ना केवल एक समाज वर्ग के नेता हैं। बल्कि छत्तीसगढ़ का असली चेहरा हैं।

शिक्षाविद शैलेश  की विधिवत कांग्रेस दीक्षा

                      शिक्षाविद् कुलसचिव शैलेश पाण्डेय के कांधे पर हरिप्रसाद ने तीन रंग वाला पटका पहनाया। इस दौरान भूपेश बघेल समेत सभी कांग्रेसियों ने शिक्षाविद् नव प्रवेशी कांग्रेस सदस्य का तालियों से स्वागत किया। व्ही.के.हरिप्रसाद ने कहा कि पार्टी को कुलसचिव के बौद्धिकता का निश्चित रूप से फायदा मिलेगा। बिलासपुर संभाग ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ को शैलेश पाण्डेय ने शिक्षा जगत में नई दिशा दी है। प्रदेश प्रभारी ने पत्रकारों को बताया कि कांग्रेस बड़ी पार्टी है। पार्टी ने योग्यता का हमेशा सम्मान किया है। कुलसचिव ने पार्टी प्रवेश के पहले ना तो पद पाने की इच्छा जाहिर की…और ना ही चुनाव लड़ने को लेकर कुछ कहा है।

                             लेकिन हम जानते हैं कि उनके बौद्धिक ज्ञान का पार्टी को किस तरह उपयोग करना है। हरिप्रसाद ने कहा कि यह प्रश्न ठीक नहीं है कि दोनो किसी वर्ग विशेष या दिग्गज मंत्रियों के क्षेत्र से आते हैं। दरअसल शैलेश को लोकतांत्रिक मूल्यों की अच्छी जानकारी है। उन्हें कुछ भी बताना या समझना ठीक नहीं होगा। क्योंकि वह शिक्षा जगत से जुड़े व्यक्ति हैं। लेकिन उनके प्रवेश करने से पार्टी को लाभ जरूर मिलेगा। यदि हाईकमान को लगता है कि शैलेश को चुनाव लड़ना चाहिए तो लड़ेंगे। मुझे लग रहा है कि कांग्रेस में शैलेश के प्रवेश से कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>