सुब्रत साहू होंगे सम्मेलन में शामिल…कोयला सचिव से मिली युवाओं को तारीफ

बिलासपुर—–केन्द्रीय कोयला सचिव सुशील कुमार ने एसईसीएल युवा अधिकारियों को सम्बोधित किया। सुशील कुमार इन दिनों चार दिवसीय एसईसीएल प्रवास पर हैं। 27 जुलाई को हाॅटल मेरिएट में जेननेक्स्ट कार्यक्रम में एसईसीएल युवा अधिकारियों को रिचार्ज किया। युवा अधिकारियों से सुशील कुमार ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था बड़े पैमाने पर कोयले के उत्पादन पर निर्भर करता है। इस बात के मद्देनजर भारतीय अर्थव्यवस्था में एसईसीएल की भूमिका बहुत ही महत्वपूर्ण है।

               सुशील कुमार ने कहा कि युवा अधिकारियों को अपने कार्य के प्रति समर्पित होना होगा। निष्ठापूर्वक कार्य करते हुए एसईसीएल और देश का मान बढ़ाना होगा। उन्होने कहा कि एसईसीएल अपने स्थापना काल से प्रतिवर्ष उत्पादन के नए मापदंड स्थापित करता रहा है…क्रम आगे भी जारी रहेगा।

                                      कार्यक्रम में एसईसीएल अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक बी.आर. रेड्डी ने भी संबोधित किया। उन्होने युवा अधिकारियों की क्षमता की तारीफ की। रेड्डी ने बताया कि सईसीएल वर्ष 2019 तक 1 बिलियन टन कोयला उत्पादन की तरफ बढ़ रहा है। इसमें युवा अधिकारियों की महत्वपूर्ण भूमिका है.

                      जेननेक्स्ट कार्यक्रम में एसईसीएल के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक बी.आर. रेड्डी के अलावा ए.पी. पण्डा, निदेशक, डाॅ. आर.एस. झा, कुलदीप प्रसाद, पी.के. सिन्हा, ए.पी. लभाने समेत कोयला क्षेत्रों के युवा अधिकारी मौजूद थेcemecon 2017 press

दो दिवसीय चिकित्सा सम्मेलन

एसईसीएल का दो दिवसीय चिकित्सा सम्मेलन-सेमेकान 2017’’ का आयोजन हाटल मेरियाट में किया जाएगा। शिविर में विशेष रूप से एसईसीएल कर्मचारियों को चिकित्सा सुविधाएं दी जाएंगी। चिकित्सा सम्मेलन का आयोजन 29 और 30 जुलाई को किया जााएगा।

                    सम्मेलन का उद्घाटन मुख्य स्वास्थ्य सचिव सुब्रत साहू करेंगे। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के तौर पर प्रोफेसर डाॅ. नितिन एम. नागरकर, डायरेक्टर, एम्स, रायपुर और भोपाल होंगे। दो दिवसीय सम्मेलन में एसईसीएल और कोलइण्डिया के विभिन्न सहयोगी कम्पनियों के अनुभवी चिकित्सक सेवाएं देंगे। सम्मेलन के दौरान देश के ख्याति हासिल चिकित्सालयों के चिकित्सक रिसर्च पेपर भी पेश करेंगे। दो दिवसीय सम्मेलन में ईलाज के दौरान आने वाली जटिल प्रक्रियाओं को लेकर भी चर्चा होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>