सल्का समिति चुनाव में धांधली…प्रतिनिधियों ने खटखटाया आयोग का दरवाजा

IMG-20170705-WA0033बिलासपुर/रायपुर—सेवा सहकारी समिति सल्का चुनाव पर गाज गिर सकती है। बिलासपुर में सेवा सहकारी संस्थाएं से न्याय नहींं मिलने पर शिकायतकर्ताओं ने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है। कांग्रेस नेता जसबीर गुम्बर की अगुवाई में चंदलाल कश्यप और साथियों ने रायपुर में शिकायत की है। गुम्बर और चंदलाल ने सल्का चुनाव अधिकारी और नोडल अधिकारी पर मिलीभगत का आरोप लगाया है। चंदलाल ने अवर सचिव को बताया कि सुरेश कुमार शुक्ला को नो़डल अधिकारी श्रीकांत शु्क्ला ने अवैधानिक ढंग से जिताया है।

                                  कांग्रेस नेता जसबीर गुम्बर के साथ चंदलाल कश्यप और उनके साथियों ने रायपुर स्थित राज्य सहकारी निर्वाचन आयोग से सलका सहकारी समिति चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है। सहायक पंजीयक सहकारी संस्थाएं अवर सचिव एस.के.सरीन को लिखित शिकायत कर बताया है कि नोडल अधिकारी श्रीकांत शुक्ला ने अवैधानिक तरीके से मतदान करवाया है। चुनाव में गड़बड़ी के आरोप को जिला सहकारी संस्थाएं ने सुनने से इंकार कर दिया है।

                      जसबीर गुम्बर और चंदलाल कश्यप ने अवर सचिव सरीन को बताया कि निर्वाचन अधिकारी आर.एस.गौतम ने अध्यक्ष,उपाध्यक्ष और बैंक प्रतिनिधि के अलावा अन्य प्रतिनिधियों का चुनाव कराया। इसके बाद निर्वाचन अधिकारी आर.एस. गौतम चले गए। बाकी का चुनावी कार्रवाई नोडल अधिकारी श्रीकांत शुक्ला ने की।

                        प्रतिनिधि मंडल ने सरीन से कहा कि नोडल अधिकारी शुक्ला ने मतदाताओं से मत पत्र लेते हुए कहा कि मतपत्र को बाक्स में डाल दिया जाएगा। यह जानते हुए भी मतदान एक गुप्त प्रक्रिया है। बावजूद इसके चुनाव अधिकारी ने गोपनीयता का पालन नहीं किया। उन्होने आदर्श चुनाव संहिता का उल्लंघन किया है। चंदलाल ने कहा कि मतगणना में मेरे साथी उपाध्यक्ष और बैंक प्रतिनिधि उम्मीदवार को चार के मुकाबले सात मत मिले। मुझे सात के मुकाबले केवल चार मत मिलना बताया गया। दरअसल नोडल अधिकारी ने सुरेश कुमार के लिए एजेंट का काम किया। जानबूझकर हराकर सुरेश कुमार को अध्यक्ष घोषित किया है।

                चंदलाल के अनुसार मेरे पैनल में कुल सात लोग थे। मेरे कहने पर अन्य पद के उम्मीदवारों को सात वोट डालते हैं। लेकिन मुझे केवल चार वोट ही मिलते हैं। जबकि सुरेश के पैनल में केवल चार लोग हैं…उसे सात वोट मिलता है। जबकि मेरे सातों साथियों ने बताया कि उन्होने मुझे वोट दिया है।

                      लिखित शिकायत के साथ चंदलाल और गुम्बर ने चुनाव आयोग को अवधराम, उषा कश्यप,द्वारिका दास,पुष्पा बाई,नंदलाल और संतोष कुमार का शपथ पत्र भी दिया । सभी लोगों ने अध्यक्ष पद के लिए दुबारा चुनाव कराने के साथ नोडल अधिकारी के खिलाफ जांच की मांग की है।

                           अवर सचिव एस.के.सरीन ने कहा कि बिलासपुर से समिति चुनाव को लेकर लगातार शिकायतें मिल रही हैं। मामले में उचित कदम उठाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>