नशेड़ी जवान ने दी एसपी को चुनौती…आईपीएस सिन्हा ने कहा…कैदी और जवानों की होगी जांच..कोई नहीं बचेगा..

Screenshot_2017-07-15-18-11-10-93 Screenshot_2017-07-15-18-11-51-09बिलासपुर— सेन्ट्रल जेल के 25 कैदियों के साथ पांच आरक्षक और दो अधिकारी जिला अस्पताल रूटीन चेकअप के लिए गए। इसी दौरान मालूम हुआ कि कैदियों के साथ पहुंचे पुलिस जवान नशे में हैं। कुछ कैदियों ने जमकर चढ़ा रखा है। देखते ही देखते खबर आग की तरह फैल गयी। एक जवान तो पत्रकारों से नशे की हालत में गाली गलौच करने से भी बाज नहीं आया। जवान का नाम अंगद प्रसाद बैच नम्बर 414 है। इस दौरान कुछ कैदी भी झूमते हुए नजर आए। यद्यपि आईपीएस शलभ सिन्हा ने ड्टूटी पर तैनात किसी भी कर्मचारी को नशे में नहीं होना बताया। बाबजूद इसके उन्होने लाइन के सुबेदार को सभी जवानों के साथ कैदियों का ब्रेदिंग मशीन से जांच करने का आदेश दिया है।

                 केन्द्रीय जेल के करीब 25 कैदी रूटीन चेकअप में जिला अस्पताल करीब साढ़े बारह बजे पहुंचे। कैदियों के साथ पांच आरक्षक और दो स्टार धारी पुलिस जवान भी थे। इसी दौरान एक आरक्षक ने पत्रकारों से गाली गलौच करने लगा। गाली गलौच के दौरान मालूम हुआ कि कैदियों के साथ जिला अस्पताल पहुंचे पुलिस के जवान नशे में हैं। कुछ कैदी भी झूमते हुए महसूस किए गए। कैदियों के साथ जिला अस्पताल पहुंचे एक पुलिस जवान ने फोटो खींच रहे पत्रकारों से गाली गलौच की। जवान का नाम अंगद प्रसाद है। उसका बैच नम्बर 414 है। शऱाब के नशे में कैदी और जवानों की खबर शहर में दावानल की तरह फैल गयी। पुलिस के आलाधिकारिोयों को भी जानकारी मिली। आईपीएस शलभ सिन्हां ने नशे में जवानों की जानकारी मिलते ही ब्रेदिंग मशीन से सभी कैदियों और सुरक्षा में लगे जवानों की जांच करने का आदेश दिया है।

क्या कहते हैं उप जेल अधीक्षकCentral Jail Bsp Image.jpg (1)

              जवानों और कैदियों की नशे में होने की जानकारी मिलते ही सेन्ट्रल जेल के उप-अधीक्षक अशोक शर्मा ने बताया कि सभी कैदियों की जिला अस्पातल से लौटते ही जांच पड़ताल होगी। जवानों के साथ भी सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। शिकायत सही पाए जाने पर जवानों के उचित कार्रवाई की जाएगी। यदि कैदियों ने शराब या अन्य किसी प्रकार के नशे में होने की पुष्टि होती है। जांच पड़ताल की जाएगी। पता लगाया जाएगा कि कैदियों ने शराब कहां से पाया। यदि नशा किया है तो जेल के अन्दर या बाहर इसका भी पता लगाया जाएगा।

लाइन इंस्पेक्टर ने कहा किसी ने नहीं किया नशा

             लाइन प्रभारी आर.सी.शर्मा ने बताया कि ना तो किसी जवान ने नशा किया है और ना ही कैदियों ने। जेल से अस्पताल के बीच क्या कुछ हुआ इसकी जानकारी उन्हें है। बावजूद इसके यदि जवानों ने शराब पिया है तो जांच पड़ताल के बाद कार्रवाई होगी। कैदियों के खिलाफ उचित कदम उठाया जाएगा। लाइन प्रभारी शर्मा ने बताया कि जहां तक जानकारी है कि जिला अस्पताल में जिस जवान ने पत्रकारों से बदतमीजी की है वह ड्यूटी पर ना होकर छुट्टी पर है। बताया जा रहा है कि अंगद प्रसाद ने ही नशे की हालत में पत्रकारों से बदतमीजी की है। जिला अस्पताल में नाटक किया है। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जांच का दिया आदेश…अंगद समेत सभी जवानों का ब्रेदिंग टेस्ट

              आईपीएस शलभ सिन्हा ने बताया कि अंगद प्रसाद पुलिस जवान है। लेकिन कैदियों के साथ उसकी ड्यटी नहीं है। बताया जा रहा है कि वह छुट्टी पर है। जिला अस्पताल में इत्तेफाक से वही भी स्टाफ से मिल गया। शिकायत के बाद मैने सुबेदार समेत अन्य जिम्मेदार SHALABH SINGHA.स्टाफ को ब्रेदिंग जांच और मुलायजा का आदेश दिया है। लाइन प्रभारी और सुबेदान से मिली जानकारी के अनुसार अंगद प्रसाद शराब के नशे में था। लेकिन अन्य जवानों ने नशा नहीं किया है। ना ही कैदियों ने शराब पी है। बावजूद इसके आदेश दिया हूं कि सभी का टेस्ट कराया जाए।

                              यदि कोई भी जवान ड्यूटी पर शराब या अन्य नशे में पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। उच्च अधिकारियों के आदेश पर नशे में पाए गए जवान को नौकरी से निलंबित भी किया जा सकता है।

                                                         अंगद ने शराब पी है। यह भी जानकारी मिली है कि उसने पत्रकारों के अलावा अन्य सामान्य लोगों के साथ गाली गलौच किया है। पुलिस कप्तान को इसकी जानकारी दी जाएगी। पुलिस कप्तान के निर्देश पर अंगद के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सिम्स से फरार हुआ था कैदी

              जिला अस्पताल में जवानों और कैदियों ने शराब पी है कि शिकायत गंभीर है। क्योंकि कुछ दिनों और महीने पहले सिम्स से एक कैदी मौका देखकर फरार हो गया था। सूत्रों के अनुसार कैदी के साथ सुरक्षा में गए जवान ने शराब का सेवन किया था। मौके फायदा उठाकर कैदी सिम्स से फरार हो गया। जिसके चलते पुलिस की काफी फजीहत हुई। कहीं उसी तरह का मामला भविष्य में ना हो। पुलिस इस मामले को लेकर गंभीर है। इसलिए आईपीएस शलभ सिन्हां ने शिकायत मिलने के तत्काल बाद सभी कैदियों और जवानों का टेस्ट का आदेश दिया है। बताया जा रहा है कि अंगद प्रसाद के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई शुरू हो गयी है।

एसपी को चुनौती

                 नशे की हालत में जवान अंगद ने कहा कि तुम पत्रकार हो। जाओ श्रीवास्तव को बता दो कि मैने पीया है। जो करना है कर लो। इतना कह कर वह शाखरूख कान की स्टाइल में गाड़ी पर बैठने का प्रयास किया। लेकिन नशा इतना था कि वह केवल बैठने का प्रयास ही करता रहा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>