दो साल बाद हिरासत में कांग्रेस नेता

TRILOKबिलासपुर—आखिर पुलिस ने मजबूरी में ही सही कांग्रेस नेता त्रिलोक श्रीवास को पकड़ ही लिया। पुलिस को करीब दो साल से त्रिलोक की तलाश थी। अलग बात है कि पिछलो दो सालों में त्रिलोक का पुलिस से सैकड़ों बार सामना हुआ। लेकिन फाइल में त्रिलोक श्रीवास को फरार बताया। फार्म हाउस से कोनी पुलिस ने त्रिलोक को अपहण और मारपीट के मामले में गिरफ्तार कर लिया ।

                       कोनी पुलिस ने अपहरण और मारपीट के मामले में दो साल से फरार बेलतरा कांग्रेस नेता त्रिलोक श्रीवास को गिरफ्तार किया है । हालाकि कांग्रेस नेता त्रिलोक श्रीवास का कहना है कि गिरफ्तार नही बल्कि मैने सरेंडर किया है।

                                  अपहरण और मारपीट मामले में बिलासपुर पुलिस को त्रिलोक श्रीवास की दो साल से तलाश थी। इन दो सालों में त्रिलोक श्रीवास का कई मामलों में  कोनी थाना आना जाना भी रहा। त्रिलोक को कई बार पुलिस और जनसामान्य के साथ सार्वजनिक स्थानों में भी देखा गया। अपहरण और मारपीट का आरोपी त्रिलोक दो सालों में कोनी थाने के सामने कई बार विरोध प्रदर्शन भी किया। लेकिन पुलिस ने कभी भी हिरासत में लिया।

                             जानकारी के अनुसार त्रिलोक श्रीवास के खिलाफ पंचायत चुनाव के दौरान पंच के साथ मारपीट और अपहरण का मामला कोनी थाने में दो साल पहले दर्ज किया गया। राजनैतिक दबाव के चलते त्रिलोक श्रीवास को पुलिस ने गिरफ्तार नही किया। संरक्षण हटते कोनी पुलिस ने त्रिलोक को फार्म हाउस से धर दबोचा।

                पूर्व जनपद सदस्य त्रिलोक श्रीवास की गिरफ्तारी के बाद कोनी में हड़कम्प का माहौल देखने को मिला। थाने में लोगों की भीड़ देखने को मिली। लोगों ने बताया कि दो साल से गिरफ्तारी से बचने त्रिलोक श्रीवास ने कभी कांग्रेस तो कभी भाजपा नेताओं का सहारा लिया। जैसे ही राजनीतिक संरक्षण में कमी आई पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

            कोनी थानेदार ने बताया कि त्रिलोक को गिरफ्तार करने मुखबिर का सहारा लिया गया है। त्रिलोक ने सरेंंडर नहीं किया बल्कि उसे उसके ही फार्म हॉउस से गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>