जेलर ने कहा…आरोपी के मां..बाप कर रहे बकवास

Central Jail Bsp Image.jpg (1)बिलासपुर– हत्या के आरोपी तीन भाइयों के माता पिता के बयान को जेलर ने बकवास बताया है। जेलर ने कहा कि बकवास करने वालों की कमी नहीं है। कहने को तो कुछ भी कह दें। लेकिन अपनी गलतियों का उन्हें अहसास नहीं होता है। विसरू के तीनों बच्चे बदमाश हैं। तीनों ने जेल की व्यवस्था को बिगाड़ कर रख दिया है। हो सकता है कि उन्हें डांटा फटकारा और कठोर कार्रवाई की गयी हो….लेकिन किसीने  हत्या के आरोपियों से तीस हजार रूपए की मांग नहीं की है।

                      आज प्रेस कांफ्रेंस में हत्या के तीन आरोपियों के माता पिता ने प्रेसवार्ता कर जेलर पर बच्चों के साथ मारपीट और रूपए मांगने का आरोप लगाया है। बिसरू ने बताया कि प्रमोद नवीन और तारण को 2014 में हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। तीनों की जिला सत्र न्यायालय में पेशी चल रही है। पिछले साल से तीनों जेल में हैं।

      बिसरू के अनुसार केन्द्रीय जेल का जेलर एन.के.शर्मा….आक्षक रंंजीत और सारके के साथ मारपीट करते हैं। तीनों से प्रतिमाह अलग-अलग दस हजार रूपए की मांग करते हैं। बिसरू ने बताया कि बच्चों को बहुत मारा जाता है। तीनों से प्रति महीने व्यीआईपी ट्रीटमेंट के लिए तीस हजार रूपए की मांग की जा रही है। तीनों आरोपियों के बच्चों के माता पिता ने बताया कि बेटों से जेल में मिलने नहीं दिया जा रहा है। मिलने के लिए कहते हैं तो जेल के आरक्षक प्रति महीने के लिए तीस हजार रूपए की मांग करते हैं। इसकी जानकारी पेशी के दौरान बच्चों ने दी है। प्रेस वार्ता में बिसरू ने बताया कि जेल में बिना पैसे लिए कैदियों के परिजनों से नहीं मिलने दिया जाता है।

जेलर शर्मा ने बताया बकवास

                      सीजी वाल से जेलर शर्मा ने बताया कि हत्या के तीनों आरोपियों के माता पिता का आरोप में दम नहीं है। प्रमोद,नवीन और तरूण तीनों बहुत बदमाश हैं। जेल व्यवस्था को हमेशा भंग करते हैं। उनके साथ अभी तक मारपीट नहीं हुई है। तीनों से तीस हजार की मांग भी नहीं की गयी है। तीनों ने जेल प्रबंधन के नाक में दम कर दिया है। कैदियों के साथ मारपीट करते हैं। व्यवस्था कर्मचारियों के साथ भी हुज्जतबाजी करते हैं।

                 एन.के.शर्मा ने कहा कि जेल में किसी कैदी से रूपयों की मांग नहीं की जाती है। जेल व्यवस्था को नहीं मानने वाले कैदियों पर सख्ती से कार्रवाई होती है। इसलिए मुझे बदनाम किया जा रहा है। लगता है बिसरू और सौहद्रा की मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं है। हत्या के आरोपियों की बात को सही मानते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>