छत्तीसगढ़ की रिजर्व सीटों पर नहीं जीत पाएगी दलित विरोधी बीजेपीःखुंटे

p r khunteरायपुर । प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष एवं पूर्व सांसद पी.आर खुंटे ने कहा है कि भाजपा आरएसएस समाज के कमजोर वर्ग अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग के गरीब तपको को सुख शांति से रहने व प्रगति करने के लिये समाज के मुख्यधारा में जोड़ना ही नही चाहती इतिहास बताता है कि इनके जानी दुश्मन मुसलमान, दलित, ईसाई, और कांग्रेस आई है।

उन्होने एक बयान में कहा कि जब से केन्द्र और राज्य में मोदी रमन की सरकार आई है तब से समाज के इन कमजोर वर्गो की सदैव उपेक्षा हुई है। यह सरकार न केवल, दलितो, आदिवासियो, अल्पसंख्यको, पिछड़ा वर्गो के गरीब लोगो को समाजिक न्याय दिलाने में असफल साबित हुई है। बल्कि इनके कार्य काल में किसी न किसी बहाने से समाज के इन कमजोर वर्गो का जीना दुभर कर दिया है।  भाजपा सरकार के क्रियाकलाप से इन वर्गो में भय व्याप्त हो गया है।

                          भाजपा सरकार में दलितो पर अत्याचार कई गुना बढ़े है भाजपा शासित राज्यो में दलित उत्पीड़न की घटना ज्यादा घटित हुई है जिसका जीता-जागता पुलिस हिरासत में सतनामी समाज के युवक सतीश नोरगे का पुलिस पीटाई से मौत है । विदित हो कि बिजली विभाग मुख्यमंत्री रमन सिंह के पास है प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले दो दिन से रामसागरपारा सतनामी बाहुल्य मोहल्ला नरियरा का ट्रांसफार्मर खराब था। बिजली गुल थी, मोहल्ले वासी बिजली व्यवस्था बहाल करने के लिये नरियरा के विद्युत विभाग के दफ्तर गये जहां दलितो को बिजली तो नहीं मिला किन्तु सतीश नोरगे को पुलिस हिरासत मौत मिला। एक तरफ मोदी सरकार गरीबी, भुख, गंदगी, संप्रदायवाद, जातीवाद, भारत छोड़ो का नारा देते फिर रहे है, तो दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री दलितो का शोषण कर अत्याचार करने वालो का संरक्षण दे रहे है।
रमन सरकार की दलित विरोधी मानसिकता के चलते छत्तीसगढ़ राज्य में दलित

ईसाई, अल्पसंख्यक असुरक्षित महसुस कर रहे है
रमन सरकार ने 13 सालो में एससी, एसटी योजनाओ का लाभ दिलाने एक भी बैठक आयोजित नहीं की गई । छत्तीसगढ़ राज्य में दलित आदिवासियो के रिक्त पदो पर आउट सोर्सिंग के आड में बेरोजगार युवको के अधिकार का हनन किया जा रहा है भाजपा सरकार ने विशेष भर्ती अभियान बंद कर रखा है । दलित विरोधी क्रियाकलापो को बढ़ावा दिया जा रहा है जिस तरह से कवर्धा थाना में पुलिस हिरासत में मृत बन्नू सतनामी के मामले को दबाया गया।

                      ठीक उसी प्रकार मुलमुला थाना में पुलिस हिरासत में की गई सतीश नोरगे हत्याकांड को शासन स्तर पर दबाने का प्रयास किया था किंतु प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आहवान पर इस हत्याकांड को लेकर प्रदेश व्यापी जिला स्तर में धरना प्रदर्शन कर प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल के नेतृत्व में हजारो समर्थको ने प्रत्येक जिला में शासन के दमन नीति के खिलाफ गिरफ्तारी दी। तब दबाव मे आकर पुलिस ने धारा 302 एससी, एसटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया । फरार थाना प्रभारी पुलिस कर्मी, नरियरा बिजली कर्मी को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

                         खुंटे ने कहा कि दलित विरोधी मुख्यमंत्री एवं गृहमंत्री से त्याग पत्र मांगने के बजाये भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा ने समाज को कमजोर करने सभी आरक्षित सीट जीतने का दावा कर दिया। भाजपा जीतना भी दवा कर ले छत्तीसगढ़ की जनता आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनाने संकलपित है स्थानीय निकाय त्रिस्तरिय पंचायत, कालेज, सहकारिता, चुनाव में प्रदेश की जनता ने भाजपा को हरा कर कांग्रेस पार्टी को भारी बहुमत से जीताया है भाजपा जितना भी गलत प्रचार कर ले दलित इनके झासे में नहीं आने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>