चाकलेट खाने से 13 बच्चे बेहोश..दो की हालत गंभीर…कलेक्टर और पुलिस कप्तान पहुंचे सिम्स..परिजनों से मिले नेता

cims_khamtarai_indexबिलासपुर— शहर से लगे गांव खमतराई में चाकलेट खाने के बाद 13 बच्चे बेहोश हो गए। सभी बच्चों को देर शाम सिम्स में भर्ती कराया गया । बच्चों की उम्र 22 महीना से आठ साल  के बीच है। बच्चों को करीब आठ बजे बेहोशी की हालत में सिम्स में भर्ती किया गया । दो की हालत काफी गंभीर है। चिकित्सकों की नजर लगातार बेहोश बच्चों की स्थिति पर लगी है। जिला प्रशासन का आला महकमा भी खबर लगते ही मौके पर पहुंच गया। कलेक्टर पी.दयानन्द और पुलिस कप्तान मयंक श्रीवास्तव,अतिरिक्त कलेक्टर के.डी.कुन्जाम बच्चों की स्थिति को देखा। परिजनों से मिलकर सांत्वना दी। इस दौरान पुलिस और जिला प्रशासन के सभी आलाधिकारी मौजूद थे।

                          cims_children_indexखमतराई नयातालाब स्थित गणेश पंडाल के पास नशीला चाकलेट खाने से 13 बच्चों के बेहोश हो गए हैं।  जानकारी के अनुसार शाम पांच के आस पास गणेश पंडाल के बाहर आस पास के बच्चे खेल रहे थे।  इसी दौरान एक व्यक्ति कार से आया और सभी बच्चों को चाकलेट खाने को दिया। इस दौरान बच्चों के माता पिता रोज मजदूरी करने बाहर गए थे। घर आने बाद देखा कि बच्चों का शरीर ढंडा है। सभी बच्चे घर में निढाल लेटे हुए हैं। उन्हें जागने की कोशिश की गयी। लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। सभी घरों के बच्चों की हालत एक सी थी। घर के सदस्यों ने रोना पीटना शुरू कर दिया। आनन फानन मे स्थानीय लोगों के सहयोग से अलग अलग घरों से बच्चों को सिम्स में भर्ती कराया गया। बच्चों के बेहोश होने की खबर शहर में आग की तरह फैल गयी। पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारी देखते ही देखते सिम्स पहुंच गए।

                                        आठ साल की बच्ची सोनिया कैवर्त पिता विश्वेश्वर कैवर्त ने बताया कि हम लोग खेल रहे थे। इसी बीच एक सफेद कार से उतर एक आदमी आया। उसने हम लोगों को खाई दिया। हम लोग चाकलेट खाकर अपने घर आए। इसके बाद क्या हुआ…इसकी जानकारी नहीं है। आठ साल का प्रिसं पिता रामकुमार यादव ज्ञान विद्या मंदिर में पढता है। प्रिंस ने बताया कि कार से उतर कर एक आदमी आया। उसके मुंह पर काला कपड़ा बंधा हुआ था। उसने हम सभी को चाकलेट दिया। खाने के बाद घर गए। हमको नींद आने लगी। मम्पी पापा ने जगाया आंख नहीं खुली। हमें सिम्स में कब लाया गया इसकी जानकारी नहीं है।

बच्चों को देखने पहुंचे कलेक्टर और पुलिस कप्तान

                     जानकारी मिलते ही सिम्स में भर्ती सभी बच्चों कलेक्टर पी.दयानन्द और पुलिस कप्तान मयंक श्रीवास्तव बच्चों को देखने पहंचे। बारी बारी से सभी बच्चों का हाल चाल पूछा। माता पिता से मिलकर बच्चों को जल्द ठीक होने की बात कही। इसके पहले अतिरिक्त कलेक्टर होश में आ चुके बच्चों से जरूरी जानकारी ली। पुलिस कप्तान मयंक श्रीवास्तव समेत एडिश्नल एसपी नीरज चन्द्राकर ने बच्चों से बातचीत कर जरूरी जानकारी इकट्ठा की। कलेक्टर ने सिम्स अधीक्षक को निर्देश दिया कि बच्चों की स्वास्थ्य उपचार को गंभीरता से लिया जाए। पल पल की जानकारी भी दें।

                        पुलिस कप्तान मंयंक श्रीवास्तव ने कहा कि मामले को गंभीरता से लिया गया है। होश में आने के बाद बच्चों से बातचीत करेंगे। उनसे मिली जानकारी हमारे महत्वपूर्ण होगी। आरोपी कोई भी हो सकता है। लेकिन किसी को छोड़ा नहीं जाएगा। बच्चों के होश में आने का इंतजार है।

दो बच्चों की हालत गंभीर

                          सिम्स में भर्ती 13 बच्चों में से दो की हालत बहुत गंभीर है। दोनों बच्चों को पुलिस कप्तान और कलेक्टर ने देखा। परिजनों से मुलाकात बच्चों को जल्द ठीक होने की बात कही। कलेक्टर पी.दयानन्द ने डाक्टरों को निर्देश दिया कि बच्चों की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखा जाए। बेहतर इलाज देकर उन्हें ठीक किया जाए।

चाकलेट या नशे की गोली

                        पुलिस कप्तान ने बातचीत के दौरान बताया कि अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी है। चाकलेट देने वाला कौन है। चाकलेट में क्या था। बच्चों ने जो खाया वह चाकलेट था या नशे गोली थी। इसकी जानकारी बच्चों के ठीक होने के बाद ही मिलेगी। बच्चों से पूछताछ करेंगे। इसके बाद किसी भी दोषी व्यक्ति को छोड़ा नहीं जाएगा।

बेहोश बच्चों के नाम 

               मौत का चाकलेट खाने के बाद सिम्स में भर्ती 13 बच्चों की उम्र 22 महीने से 8 साल के बीच है। सिम्स में भर्ती बच्चों के नाम क्रमशः गंगा केवट पिता विशेषर केवट उम्र पांच साल,बेड नम्बर 16 है। इसी तरह विरेन्द्र पिता मोहन गोंड उम्र 4 साल बेड नम्बर 16,आकांक्षा पिता अशोक ध्रुव उम्र 8 साल बेड नम्बर 14,प्रिसं यादव पिता राम कुमार यादव उम्र 11 साल बेड नम्बर 11 का मरीज है। इसके अलावा सोनिया कैवर्त पिता विशेष्वर कैवर्त उम्र 8 साल बेड नम्बर 10, सोनम पिता विश्वश्वर कैवर्त उम्र 3 साल बेड नम्बर 22, दीनू पिता राम विशाल केवट उम्र 22 महीना बेड नम्बर 22, आशीष ध्रुव पिता सुनील ध्रुव उम्र 6 साल बेड नम्बर 24,आदित्य ध्रुव पिता सुनील ध्रुव उम्र 4 साल बेड नम्बर 8 ,नरेन्द्र पिता विदेशी निषाद सात साल बेड नम्बर 9, निर्मला निषाद पिता विदेशी निषाद उम्र 4 साल,आशु ध्रुव पिता विनोद कुमार ध्रुव उम्र चार साल बेड नम्बर 7 में भर्ती है।

                    जानकारी के अनुसार भर्ती 13 मरीजों में कुछ लोग के परिवार के सभी बच्चों ने मौत का चाकलेट खाया है। सभी लोगों का इलाज चल रहा है।

मौके पर पहुंचे नेता साथ आयी पुलिस

                        13 बच्चों के बेहोश होने की खबर और सिम्स में भर्ती होने की जानकारी मिलते ही भाजपा,कांग्रेस और छत्तीसगढ जनता कांग्रेस के नेता बच्चों को देखने पहुंचे। मौके पर भाजपा नेता विक्रम सिंह, कांग्रेस नेता त्रिलोक श्रीवास,जनता कांग्रेस नेता समीर अहमद बबला समेत कार्यकर्ताओं के साथ नजर आए।

Comments

  1. By डॉ. राकेश

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>